Author Topic: 9 विदेशी चीजें जिन्हें हमने भारतीय बना लिया  (Read 806 times)

chhaterdhari

  • Administrator
  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 1853
  • Karma: +0/-0


कुछ विदेशी चीजें भारतीय संस्कृति से घुलमिलकर विशुद्ध देशी से रूप धारण कर है. सच्चाई यह है कि ये सभी चीजें विदेशों से आईं हैं.

1. समोसाः भारत में सबसे लोकप्रिय स्नैक्स में से एक समोसा की उत्पत्ति भारत में नहीं बल्कि मिडिल ईस्ट में हुई और वहां इसे सम्बोसा कहा जाता था.

2. चायः भारतीयों के लिए तो चाय एक नशे की तरह है. लेकिन आपको यह जानकारी हैरानी होगी कि चाय की उत्पत्ति चीन में हुई थी और इसे भारत में अंग्रेजों ने लोकप्रिय बनाया.

3. राजमाः इस देश के सबसे लजीज व्यंजनों में से एक है राजमा. लेकिन राजमा भारत में मैक्सिको और ग्वाटेमाला से पहुंचा.

4. पतंगः हम सभी के जेहन में बचपन में पतंग उड़ाने की यादें ताजा होंगी. लेकिन पतंग भी भारतीय नहीं है, मतलब पतंग हमारे देश में चीन से आया है.

5. क्रिकेटः जिस खेल को भारत में धर्म का दर्जा प्राप्त है. उसकी शुरुआत अंग्रेजों ने की थी और वही इसे हमारे देश लाए थे. फिर हमने अपनी मेहनत से इसे अपना बना लिया.

6. आलूः भारत में इसके बिना तो सब्जी बनाने की कोई सोच भी नहीं सकता लेकिन इसकी उत्पत्ति भारत में नहीं बल्कि पेरू और उत्तरी पश्चिमी बोलिविया में हुई थी.

7. हाथों से बुनाईः हाथों से बुने स्वेटर भी हमारे देश में बहुत लोकप्रिय हैं और हमारी दादी और नानी के फुर्सत के पलों में फेवरिट काम भी. लेकिन यह कला मिस्त्र से भारत पहुंची.

8. बिरयानीः हैदराबादी बिरयानी पूरे देश में फेमस हैं लेकिन इतिहासकारों का दावा है कि बिरयानी को भारत तुर्की के आक्रमणकारी लाए थे.

9. मैगीः इस देश के सबसे लोकप्रिय स्नैक्स में से एक मैगी भी भारत की देन नहीं है. इसका आविष्कार जूलियस मैगी ने वर्ष 1872 में किया था और यह स्विट्जरलैंड से भारत आई.
source - palpal india